समाज के गौरव

आगे निम्न लिखित जनकारी अखिल भारतीय औदिच्य महासभा . ब्लॉग स्पॉट.काम  पर है देखें इसे  व् अन्य  समाज के गोरव की जानकारी धीरे धीरे इस साईट पर देते रहने का प्रयास करेंगे|
बागड के सन्‍त योगीराज मावजी- जो पानी के उपर चल सकते
‘औदीच्‍य भास्‍कर”श्री शिवप्रकाश जी व्दिवेदी-“औदीच्य …बंधु पत्र ओर औदीच्य महासभा के जन्मदाता
रायबहादुर पण्डित चम्‍पालाल तिवारी।: औदीच्य समाज की विभूतियाँ- अंग्रेजों के जेलर-29/3/13
औदीच्‍य रत्‍न पं॰ मुकुन्‍दराम जी त्रिवेदी– इन्‍दौर नगर के प्रथम आनरेरी मजिस्‍ट्रेट औदीच्‍य रत्‍न पं॰ मुकुन्‍दराम जी त्रिवेदी 1862 में –
श्री नरेश मेहता– औदीच्य समाज की विभूतियाँ ।:अनेक सम्मान व पुरस्कारों में ज्ञानपीठ पुरस्कार भी शामिल।-
डॉ.चन्‍द्र प्रकाश व्दिवेदी (चाणक्‍य)- औदीच्य समाज …: लोकप्रिय धारावाहिक ‘चाणक्‍य’ के लेखक निर्देशक तथा -दी
औदीच्‍य दिवाकर परम श्रध्‍देय श्री जयनारायण जी महाराज लेबल: औदीच्य समाज के गोरव

औदीच्‍य बन्‍धु के आदि संरक्षक एवं जीवन दाता पं . श्री लाल जी साहब पण्‍डया
गीतकार कवि स्व. श्री रामचन्द्र प्रदीप-विडिओ सहित औदीच्य समाज के
अखिल भारतीय औदीच्य महासभा रजि. : पू; शंकराचार्य जी पुरी,गोवर्धन पीठ – श्री स्‍वामी …: औदीच्‍य समाज को गौरवान्वित करने ेवालें में पू; शंकराचार्य,पुरी,गोवर्धन पीठ के श्री स्‍वामी निरंजन देव जी तीर्थ का नाम उल्‍लेखन…
भागवताचार्य सन्‍त श्री रमेशभाई ओझा
श्री कृपाशंकर जी महाराज–औदीच्‍य समाज की विभूतियां…: श्री कृपाशंकर जी महाराज मथुरा के ज्‍योतिषी बाबा का वंश औदीच्‍य ब्राहमण समाज का एक प्रसिध्‍द घराना है। इस संस्‍थान के यशस्‍वी पुरूष ज…
पं; गोविन्‍दवल्‍लभ जी शास्‍त्री —औदीच्‍य समाज की…: 1917 के जलियाँवाला बाग के मंच से घटना के साक्षी श्री पं; गोविन्‍दवल्‍लभ जी शास्‍त्री, औदीच्‍य समाज के वे मूर्धन्‍य विव्‍दान रहे हैं,

पं गोपीवल्‍लभ जी उपाध्‍याय -औदीच्य समाज की विभूतियां…:मूर्धन्य विद्वान,तेजस्वी लेखक कई पत्रिकाओं के संपादक रहे, आगर [शाजापुर] के निवासी] औदिच्य बंधु के पूर्व संपादक पं गोपीवल्लभ जी उपाध्याय पर औदीच्य समाज को गर्व हे।
वेदमूर्ति पंडित नरहरि श्रीक़ृष्‍ण शुक्‍ल – औदीच्य …: उज्जैन निवासी वेदमूर्ति पंडित नरहरि श्रीक्रष्‍ण शुक्‍ल वेदाचार्य प्रकाण्‍ड विव्‍दान ”प ण्डित नरहरि श्री कृष्‍ण शुक्‍ल जी का जन्‍म मार्गशी…

‘मानस माधुरी” परम पूज्‍या हेमलता जी (दीदी मॉ) –..औदीच्य समाज की गोरव शाली महिला संत — सिद्धपुर में स
श्रीमती मालती रावल– औदीच्य समाज की गोरवशाली महिला…: अपनी सांस्कृतिक रूचि के कारण सम्‍माननीय श्रीमती डॉ श्रीमती जयाबेन शुक्‍ल औदीच्‍य बन्‍धु के संपादन कार्य से लम्‍बे समय से जुडी रही । परंतु उनके सेवा भक्ति और त्‍यागमय व्‍यक्तित्‍व के विविध सोपान बहुत कम व्‍यक्ति ही जानते हैं।
प्रतिभा कुशल अभिनेत्री ओर नर्तकी सुश्री कणिक…: विश्‍व के प्रसिध्‍द फिल्‍म निर्देशक बर्नार्डो बर्टोलुची की प्रसिध्‍द फिल्‍म ” लिटिला बुध्‍दा” में महारानी महामाया की भूमिका के लिये बर्नार्डो ने कणिका को चुना .

समाज चिंतक-श्री विश्वनाथ यजुर्वेदी, पूर्व अध्यक्ष म.प्र आद्योगिक न्यायालय एवं चेयरमेन म.प्र. आद्योगिक न्यायाधिकरण इंदौर।
राजस्थान के महान शिक्षक चित्रकार पं; कान्तिचन्‍द्र भारव्‍दाज।
स्वर्गीय श्री पं.ओम व्यास ‘ओम्’
”संगीत मनीषी” पं; क़ृष्‍ण शंकर शुक्‍ल।
सुप्रसिध्‍द चित्रकार एवं कला प्रेमी श्री गोपाल क़ृष्‍ण दवे इंदौर
अमर शहीद बलराम जोशी – कारगिल युद्ध में दी प्राणहुति।

618total visits,1visits today